TIME PASS

Entertenment & Knowledge & Time Pass.NEWS

Wednesday, April 25, 2018

PM की निंदा करने से पहले *अपने गिरेबान में झांककर देखें*

No comments :
अगर बैंक की लाइन में मृत्यु के ज़िम्मेदार मोदीजी है, तो 1947 विभाजन के नरसंहार का ज़िंम्मेदार कौन ? बस वैसे ही पुछ रहा हुँ 
अगर बैंक की लाइन में मृत्यु के ज़िम्मेदार मोदीजी है, तो हजारो निर्दोष  सिखो की हत्या का जिम्मेदार कौन ? बस वैसे ही पुछ रहा हुँ 
अगर बैंक की लाइन में मृत्यु के ज़िम्मेदार मोदीजी है, तो हज़ारो कश्मीरी पंडितों के  नरसंहार का ज़िंम्मेदार कौन ? बस वैसे ही पुछ रहा हुँ 
अम्बानी ,अदानी, सिंघवी, टाटा, बिरला, माल्या, ललित मोदी,
*ये मोदी के कार्यकाल में अरबपति बने थे क्या ???*
क्या 85 अरबपतियों को जो 90 हजार करोड़ का लोन दिया गया था
*क्या वो मोदी के समय दिया गया ...??*
जिस भी अफसर के घर छापा डाला जाए... तो करोड़ रुपये तो उसके गद्दे के नीचे ही मिल जाते है ...
*क्या ये मोदी के काल में कमाए गये ....????*
*किस हद की मूर्खता पूर्ण देश भर में बातें है .*
मोदी के काल में तो माल्या के 8000 करोड़ के लोन के जवाब में ED ने उसकी 9120 करोड़ की संम्पत्ति को कब्जे में ले लिया है ..
*बस यही गलती हुई है कि मोदी अकेला भ्रष्ट लोगो के खिलाफ लड़ रहा है...*
और
*हमारे देश में नमक और नमकहराम दोनों पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं ....*
व्यक्तिगत रूप से आप *बीजेपी के विरोधी* हो सकते हैं।
बीजेपी की नीतियों के विरोधी हो सकते हैं ये एक सामान्य प्रकिया है..
और इसमें कुछ गलत भी नहीं है...

जितना टैक्स gst के पहले एक साल में आता था आज उससे ज्यादा एक महीने में आ रहा है.....

No comments :
जीएसटी माफिया को तोड़ दे रही है
कलकत्ता का मटिया ब्रिज और बड़ा बाजार रेडीमेड कपड़ो में एशिया का सबसे बड़ा मार्केट है खासकर गर्ल्स वियर के कपड़ो में टॉप पर है....हालांकि बॉम्बे, दिल्ली,अहमदाबाद,इंदौर,जबलपुर और कटनी में भी रेडीमेड कपड़ो की मंडी है लेकिन कलकत्ता इनसे आगे है......आपको शायद यकीन नही होगा इतनी बड़ी मंडी होने के बावजूद यहां से सरकार को बड़ी मुश्किल से सिर्फ 10% माल का ही टैक्स जाता था बाकी का 90% माल का टैक्स व्यापारी और सत्ताधारी मिलकर डकार जाते थे....मटिया ब्रिज मंडी में लगभग मुल्लो का कब्जा है मालिक से लेकर कारीगर तक मुसल्ले है इसलिए यहां के व्यापारियों का इनकमटैक्स विभाग में इतना खौफ है कि कोई इनकम टैक्स का अधिकारी यहां रेड मारने से पहले 100 बार सोचता था क्योंकि जो रेड मारने जाता वापस नही आता था.....धडल्ले से टैक्स चोरी होती थी
यहां क्योंकि यहां के व्यापारियों को राज्य सरकार और केंद्र सरकार का सरंक्षण प्राप्त था कपड़ो के कार्टून में भर भर कर मोमता बानो के घर तक रुपयों की गड्डियां पहुचती थी बोले तो तुम भी खाओ और हमे भी खिलाओ बाकी सब हम देख लुंगी......अरबो रुपयों की टैक्स चोरी सरकार के नाक के नीचे होती रही लेकिन केंद्र की कांग्रेस सरकार सिर्फ सत्ता के लालच में मोमता बानो का साथ देती रही.....
2014 में जब केंद्र में मोदी सरकार बनी वो सरकार जिसे भ्र्ष्टाचार मिटाने के लिए ही बहुमत मिला था....सत्ता में आते ही सरकार का पहला लक्ष्य था भ्र्ष्टाचार पर लगाम लगाना.....क्योंकि भ्र्ष्टाचार पूरी तरह से तभी खत्म होगा जब इस देश का हर व्यक्ती ईमानदार बनेगा लेकिन लगाम तो लगाई जा सकती थी.....सरकार बनते ही गज्जू की रडार में इस देश के जितने मैन्युफैक्चरिंग हब है जहां से कोई भी चीज बनती है वो सब आ गए.....क्योंकि जब तक जड़ में खाद डलेगा तब तक पौधा कभी नही बढ़ सकता......जिस देश की टैक्स प्रणाली में ही अंदर तक भ्रष्टाचार था वो देश कभी आगे नही बढ़ सकता....सत्ता में आते ही सरकार की पहली कोशिश gst लागू कर टैक्स प्रणाली में सुधार लाना..... लेकिन विपक्ष के हंगामे की वजह से 3 साल तक यह बिल लटका रहा....बाद में gst पास होते ही मोदी ने सभी राज्यो को gst के अंतर्गत आने का अल्टीमेटम दिया......
भाजपा शाषित राज्य तो तुरंत मांन गए लेकिन मोमता बानो अड़ी रही क्योंकि इसमें सीधे टैक्स केंद्र सरकार को जाना था उसके बाद राज्यसरकार को मिलना था अब मलाई हाथ से निकल रही थी तो थोड़ी छटपटाहट तो थी पहले नोटबन्दी की चोट उसके बाद ये मुआ gst पहले नंगा कर के कोड़े लगाए फिर gst लगाकर मोमता के ऊपर नमक छिड़क दिया......मरती क्या न करती अंत मे gst में शामिल होना ही पड़ा क्योंकि इसके अलावा कोई चारा भी नही था......gst में कानून इतने तगड़े है कि अच्छे अच्छे अरबपति व्यापारी भी पेंट में पेशाब कर दे .....असल मे ये कानून इन्ही बड़े डकैतों को देखते हुए बनाए गए थे इससे छोटे व्यापारियों को कोई हानि नही थी ये तो इन्ही डकैतों ने एक हौव्वा बना दिया था और छोटे व्यापारियों में एक भय का माहौल पैदा कर दिया था......
आज की तारीख में इन बड़ी मंडियों से जितना टैक्स gst के पहले एक साल में आता था आज उससे ज्यादा एक महीने में आ रहा है.....ये जो आप चमचमाती सड़के देख रहे है....गरीबो को मुफ्त में गैस कनेक्शन दिए जा रहे है....गरीबो को मुफ्त में घर दिए जा रहे है....देश की सीमाएं मजबूत की गई है....सेना की ताकत बढ़ाने के लीए आधुनिक हथियार खरीदे जा रहे है......जनहितकारी जितनी भी योजनाए लागू की गई है ये इसी का नतीजा है.....आपके द्वारा दिया गया टैक्स पहले ये डकार जाते थे आज आपके वो पैसे सरकार इनके हलक में हाथ ड़ालकर इनसे वापस ले रही है और आप पर खर्च कर रही है.....यही एक मात्र वजह है कि एक चायवाले के खिलाफ पूरा विपक्ष एक हो चुका है क्योंकि इनकी पैसे छापने की मशीन पर गज्जू ने ताला लगा दिया है......अब ये आपको तय करना है कि आप किसके साथ जाना चाहते है 2019 दूर नही है .....!!!!
       GST is breaking the Mafia
Calcutta's Matia Bridge and Big Bazaar are the largest markets in readymade clothes, especially in the clothing of Girls Veer. However, there are also readymade garments for Bombay, Delhi, Ahmedabad, Indore, Jabalpur and Katni, but Calcutta It is ahead of them ... you may not believe that despite being such a large market, the government was forced to tax only 10% of the goods, while the remaining 90% of the goods tax trader and The rulers used to go to Dakar. In Matiya Bridge Mandi, the possession of the mullahs is from the owner to the craftsman, so the traders here are so scared in the Income Tax department that an Income Tax Officer thinks 100 times before dropping here. That was because those who did not come back to kill the red were ... tax was stolen from Dhadle
 Here because the traders here were protected by the state government and the central government, filled the cartoons of the clothes and used to reach the pots of rupees from the house of Momata Bano, then you also eat and we also feed the rest, we see Lungi .... Tax evasion of Airboo remained under the nose of the government, but the Congress government at the center just kept supporting Mamta Banu in the greed of power .....
In 2014 when the Modi government was formed in the center, the government, which got the majority to eradicate corruption .... The first goal of the government when it came to power was to rein in corruption ... because corruption will be completely fulfilled only when Every person of this country will be honest but a reinforcement could have been done. In the Gaju Radar, the manufacturing hub of this country is the manufacturing hub where everything comes from where it all came ..... As long as the manure will be fertilized till the plant can never grow ... The country whose corruption was in the tax system itself can never grow ... The government's first attempt at coming to power Applying gst to improve tax system ... But due to the opposition's disagreement, the bill was hanging for 3 years. Later, as soon as the gst passed, Modi gave an ultimatum to all the states under the gst. .....
The BJP-ruled state was immediately accepted, but Mamta Banu was being persuaded because it had to go directly to the Central Government, after which the state government was going to meet, now the cream was coming out of hand, then there was a little bit of a screaming injury. Put the rabbit after putting the gest and then sprinkle the salt over the waist ... ... did not die, it had to be included in the gst in the end because there was no fodder besides ... in gst It is so strong that even the good billionaire businessmen also urinate in paint. In fact, these laws were made in view of the large dacoits, there was no harm to the small traders, these dacoits made a hawk. And had created an atmosphere of fear in small traders ......
In today's date, the amount of tax that comes from these big boards in the first year, is coming in more than a month from today .. This is what you are seeing in the bright road .... Free gas connections for the poor Giving the poor people free of cost ... the boundaries of the country have been strengthened .... Modern weapons are being purchased to increase the strength of the army ... This is the result of the schemes that have been implemented by the public. The tax was paid earlier. Today your money is being withdrawn from them by handing them over to the government and spending it on you ... This is the only reason that the entire Opposition has become one against a tea seller. Because Gazzo has locked on their money-printing machine ... now you have to decide who you want to go with 2019 is not far away ..... !!!!

Diebetes /  शुगरएक नंगा सच..

No comments :
Diebetes /  शुगर
एक नंगा सच.. जानिये.!

लूट मचाने के लिए दवा कंपनियाँ किस हद तक गिर सकती आप अनुमान भी नहीं लगा सकते ,
अभी कुछ समय पूर्व स्पेन मे शुगर की दवा बेचने वाली बड़ी-बड़ी कंपनियो की एक बैठक हुई है ,दवाओ की बिक्री बढ़ाने के लिए एक सुझाव दिया गया है कि अगर शरीर मे सामान्य शुगर का मानक 120 से कम कर 100 कर दिया जाये तो शुगर की दवाओं की बिक्री 40 % तक बढ़ जाएगी ।
आपकी जानकारी के लिए बता दूँ बहुत समय पूर्व शरीर मे सामान्य शुगर का मानक 160 था दवाओ की बिक्री बढ़ाने के लिए ही इसे कम करते-करते 120 तक लाया गया है जिसे भविष्य मे 100 तक करने की संभावना है ।
ये एलोपेथी दवा कंपनियाँ लूटने के लिए किस स्तर तक गिर सकती है ये इसका जीता जागता उदाहरण है आज मैडीकल साईंस के अनुसार शरीर मे सामान्य शुगर का मानक 80 से 120 है
अब मान लो दवा कंपनियो के साथ मिलीभगत कर इन्होने कुछ फर्जी शोध की आड़ मे नया मानक 70 से 100 तय कर दिया, अब अच्छा भला व्यक्ति शुगर टेस्ट करवाये और शुगर का सतर 100 से 110 के बीच आए ,तो डाक्टर आपको शुगर का रोगी घोषित कर देगा,
भय के कारण आप शुगर की एलोपेथी दवाएं लेना शुरू कर देंगे, अब शुगर तो पहले से सामान्य थी आपने जो भय के कारण शुगर कम करने की दवा ली तो उल्टा शरीर मे और कमजोरी महसूस होने लगेगी ,
और आप फिर इस अंधी खाई मे गिरते चले जाएंगे ।
और मान लो आप जैसे 2 -3 करोड़ लोग भी इस
साजिश का शिकार हुए तो ये एलोपेथी दवा कंपनियाँ लाखो करोड़ का व्यापार कर डालेंगी
एक नंगा सच.. जानिये.! क्या आप जानते हैं.............  
1997 से पहले fasting diebetes की limit 140 थी।
फिर fasting sugar की limit 126 कर दी गयी।
इससे world population में 14% diebetec लोग अचानक बढ़ गए।
उसके बाद 2003 में WHO ने फिर से fasting sugar की limit कम करके 100 कर दी।
याने फिर से total population के करीबन 70% लोग diebetec माने जाने लगे।
दरअसल diebetes ratio या limit तय करने वाली कुछ pharmaceutical कंपनियां थीं जो WHO को घूस खिलाकर अपने व्यापार को बढ़ाने के लिये ये सब करवा रही थीं।
और अपना बिज़नेस बढ़ाने के लिए ये किया जाता रहा।
लेकिन क्या आपको पता है कि
हकीकत में डायबिटीज को कैसे जांचना चाहिए ?
कैसे पता चलेगा कि आप डायबिटीज के शिकार हैं भी या नहीं ?
पुराने जमाने के इलाज़ के हिसाब से
डायबिटीज चेक करने का एक सरल उपाय है ---
आप की उम्र और + 100
जी हाँ
यही एक सचाई है
अगर आपकी उम्र 65 है तो आपका सुगर लेवल खाने के बाद 165 होना चाहिये।
अगर आपकी age 75 है तो आपका नॉर्मल सुगर लेवेल खाने के बाद 175 होना चाहिए।
अगर ऐसा है तो इसका मतलब आपको डायबिटीज नहीं है।
ये होता है age के हिसाब से यानी..
So now you can count your diebetec limit as 100 + your age.
अगर आपकी उम्र 80 है तो फिर आपकी डायबिटिक लिमिट खाने के बाद 180 काउंट की जानी चाहिये।
मतलब अगर आपका सुगर लेवल इस उम्र में भी 180 है तो आप डायबिटिक नहीं हैं।
आपकी गिनती नॉर्मल इंसान जैसी होनी चाहिये।
लेकिन W.H.O. को अपने कॉन्फिडेंस में लेकर बहुत सारी फार्मा कम्पनियों ने अपने व्यापार के लिये सुगर लेवेल में उथल पुथल कर दी और आम जनता उस चक्रव्यूह में फंस गई।
No Doctor can guide u.
No one will advice u.
But its a bitter truth.!
उसके साथ साथ एक सच ये भी है कि--
अगर आपकी पाचन शक्ति उत्तम है तो आपको कोई टेंशन लेने की कोई जरूरत नहीं है
या फिर आप अपने जीवन में कोई टेंशन नहीं लेते।
आप अच्छा खाना खाते हो
आप जंक फूड, ज्यादा मसालेदार या तैलीय भोजन या फ़्राईड फूड नहीं खाते
आप रेगुलर योगा या कसरत करते हैं
और आपका वजन आपकी हाइट के हिसाब के बराबर है
तो आपको डायबिटीज हो ही नहीं सकती।
यही सत्य है, बस टेंशन न लें अच्छा खाना खाएं, एक्सरसाइज करते रहें।
पोस्ट को शेयर करना मत भूलिए .... जागो और दूसरों को जगाओ !
       Diebetes / Sugar
A naked truth .. know!

To the extent that drug companies can fall to plunder you can not even guess,
There is a meeting of large companies selling sugar medicines in Spain some time ago, a suggestion has been made to increase the sale of medicines, if the normal sugar in the body is reduced from 120 to 100, then sugar The sale of drugs will increase by 40%.
For your information, long before the normal standard of normal sugar in the body was 160, it has been brought down to 120 to reduce the sales of drugs, which is likely to be done in the future by 100.
These alopecia medicines can fall to the level of drug companies, it is a living example. Today, according to the Medical Science, the standard of normal sugar in the body is 80 to 120
Now, suppose, compromising with the pharmaceutical companies, they fixed new standard 70 to 100 under the guise of some bogus research, now a good person can make a sugar test and the level of sugar is between 100 to 110, the doctor declares you as a patient of sugar. will do it,
Due to fear, you will start taking allopathy medicines of sugar, now the sugar was already normal. If you take the medicine to reduce sugar due to the fear, you will start feeling weakness in the body,
And you will go away again in this dark hole.
And assume that 2 crore people like you
If the victim is a victim, then allopathy drug companies will trade millions of crores
A naked truth .. know! Do you know.............
Prior to 1997 the limit of fasting diebetes was 140.
Then the limit of fasting sugar was made to 126.
By this, 14% diebetec people in the world population suddenly increased.
After that, the WHO again reduced the limit of fasting sugar to 100 in 2003.
Again, around 70% of the total population started to be considered diebetec.
Actually, there were some pharmaceutical companies deciding the deathbetes ratio or the limit which were doing this to raise the business by feeding the WHO to the WHO.
And this has been done to increase your business.
But do you know that
How to check diabetes in reality?
How do you know if you are a victim of diabetes or not?
According to the treatment of old age
One simple way to check diabetes is ---
Your age and + 100
Yes
This is the truth
If you are 65 then your sugar level should be 165 after eating.
If you are 75 then your normal sugar level should be 175 after eating.
If that is the case, then you do not have diabetes.
This is the age i.e. ..
So now you can count your diebetec limit as 100 + your age.
If you are 80, then your diabetic limit should be 180 counts after eating.
Meaning if your Sugar Level is also 180 at this age then you are not diabetic.
Your countdown should be like a normal person.
But W.H.O. By taking them to their confidences, many pharma companies have wreaked havoc in Sugar Level for their business and the general public got trapped in that maze.
No Doctor can guide u
No one will advice
But its a bitter truth.!
Along with that there is a fact that--
If your digestion power is good then there is no need to take any tension
Or you do not take any tension in your life.
You eat good food
You do not eat junk food, more spicy or oily food or friday food
Regular Yoga or Exercise
And your weight is equal to your height
So you can not get diabetes.
This is the truth, do not take tension, eat good food, do exercises.
Do not forget to share the post .... Wake up and wake others!

✴ अच्छा समाचार✴सुप्रीम कोर्ट ऑर्डर

No comments :
✴ अच्छा समाचार✴
सुप्रीम कोर्ट ऑर्डर
==========================
रेलवे अधिकारियों ने एक प्रणाली शुरू की है जहां कोई एक चलती ट्रेन से शिकायत कर सकता है।
शिकायत के बारे में एसएमएस स्वीकार किया जाएगा और भाग लिया जाएगा।
ट्रेन नंबर, बॉगी नो, शिकायतों की सटीक प्रकृति दें
स्नान कक्ष में पानी नहीं
कोई प्रकाश नहीं/
प्रशंसक काम नहीं कर रहा /
एसएमएस के माध्यम से सुरक्षा समस्या आदि।
यह एक प्रभावी उपकरण है।
रेलवे शिकायत एसएमएस
नहीं: 8121281212 है।

कृपया इस संदेश को पास करें, यह बहुत उपयोगी है
==========================
1. यदि आप भारत में कहीं भी भिखारी बच्चों को देखते हैं, तो कृपया संपर्क करें:
9940217816 पर "लाल सोसाइटी"। वे बच्चों को उनके अध्ययन के लिए मदद करेंगे।

==========================
2. आप किसी भी ब्लड ग्रुप के लिए कहां खोज सकते हैं, आपको हजारों मिलेंगे
दाता के पते का। www.friendstosupport.org

==========================
3. इंजीनियरिंग छात्र www.campuscouncil.com में पंजीकरण कर सकते हैं
40 कंपनियों के लिए कैंपस चयन में भाग लें।

==========================
4. विकलांग / शारीरिक रूप से विकलांग बच्चों के लिए नि: शुल्क शिक्षा और नि: शुल्क छात्रावास।
संपर्क: - 9842062501 और 98 9 4067506।

==========================
5. अगर कोई आग दुर्घटना या समस्याओं से पैदा हुए लोगों से मुलाकात की
उनके कान, नाक और मुंह से मुक्त प्लास्टिक सर्जरी हो सकती है
कोडाईकनाल पासम अस्पताल।
जर्मन डॉक्टरों द्वारा। सब कुछ मुफ्त है।
संपर्क: 045420-240668, -245732 "

होंठ प्रार्थना करने से हाथों की मदद करना बेहतर है "

Popular Posts